How to tarvel during pandemic corona virus कोरोना वायरस के समय कैसे सफर करें

कोरोना वायरस (corona virus)चीन के wuhan शहर से शुरु होके पूरी दुनिया में फैल चुका है. चीन में अब तक के सबसे अधिक वायरस पीड़ित लोग है. लगभग 90,000 से भी अधिक लोग इसके चपेट में अकेले चीन में है. बाकी 4,60,000+ लोग पूरी दुनिया में इसके चपेट मैं आ चुके हैं. 

CORONA क्या है और कहाँ से आया है

Corona एक वायरस है. जैसे साधारण आम वायरस होते बिल्कुल उसी प्रकार के. लेकिन इस वायरस का कोई दावा या टिका न होने के कारण अब यह महामारी का रूप ले चुका है. कोरोना 6 प्रकार के होते है. अभी जिस कोरोना का लोग जिक्र कर रहे है उसका नाम है COVID 19.

 ऐसा माना जा रहा है की यह वायरस सांप से आया है. ऐसा माना जा रहा है कि wuhan के किसी प्रान्त में इसे (सांप) बेचा जा रहा था होगा उसी समय किसी मानव के संपर्क में आने के बाद महामारी फैली होगी. 

क्या है लक्षण COROA VIRUS के

 साधारण शर्दी खांसी जैसे ही- तेज़ बुखार, नाक का बहेना , खांसी, सांस लेने में तखलिफ़ इसके लक्षण है. अब पूरे भारत में इसके जांच केन्द्र खुल चुके है. अगर ऊपर दिए गए लक्षण लगे तो तुरंत जांच केंद्र में खून जांच करवाए . इससे आप और आपके आस पास भी लोग सुरक्षित रहेंगे. 

also readPUSHKAR MELA

सफर करते वक़्त रखें ध्यान 

सफर ही ऐसा जगह है जहां सबसे ज्यादा फैलने का प्रोबेबिलिटी होता है. अधिकतर लोग एक ही चीज को छू सकते है. जैसे – दरवाजा पर लगा हुआ हैंडल, या सीट्स, वशरूम, हैंडवाश, आदि. लेकिन बिना छुवे इन यात्रा करना भी संभव नही है. तो इसके लिए बहुत जरूरी है खुद का बचाओ करना. बचाओ है तरीका है जससे आप खुद का या अपने परिवार में फैलने से रोक सकते है. 

बचाव करने का तरीका

  1. Hand Sanitizer – सफर के वक़्त ये संभव नहीं है की हमेशा हाथ धोया जा सके. इसलिए सैनिटाइजर के उपयोग से आप हमेशा हाथ साफ कर सकते हैं. खासकर खाने से पहले जरूर से हाथ साफ कर ले.
  2. Mask – ये बहुत ही संभव है की आपके बगल वाले SEATS में कोई खांसने वाला व्यक्ति बैठा हो. लेकिन आप उसको ये बोल नहीं सकते है की वो उठ के चले जाए इसलिये खुदका मास्क रहेगा तो बहुत ही काम चान्सेस है की आप उसके संक्रमण से बच सकते हैं. 
  3. NO HANDSHAKE- आजकल ये बहुत कॉमन हो चुका है. लोग या तो गले मिलते है या हाथ मिलाते है. भारत की पुराने परंपरा दोहराने का समय आ चुका है. दूर से नमस्ते करने का समय आ गया है. वैज्ञानिको का यह मानना है कि हाथ मिलने से संक्रमण सबसे अधिक फैलता है.  इसलिए ये बहुत जरूरी है की सबसे अधिक ध्यान इसी बात का रखें.

घबराये नहीं

कोरोना से मारने वालो में अधिकांश 60 वर्ष से ऊपर आयु वाले है. जिनका इम्युनिटी सिस्टम अपेक्षाकृत थोड़ा कमजोर होता है. कोरोना से मृत्यु दर 15% के आसपास है. मतलब 100 लोग जिन्हें कोरोना हुआ है उनमें से 15 लोग मरे हैं.  इसका मतलब यह है कि 85% लोग ठीक हो रहे हैं. 15-50 आयु वर्ग में मरने वालों की संख्या मात्रा 0.2% है. मतलब इस आयुवर्ग के हज़ार लोग में केवल 2 लोगों की मृत्यु हो रही है. इसलिए इससे इतना घबराने की जरूरत भी नही है. 

GOVT. ADVISORY AND HELPLINE click here

One thought on “How to tarvel during pandemic corona virus कोरोना वायरस के समय कैसे सफर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *